AstrologyFutureEye.Com

Indian Astrology Portal

Ank Jyotish Varsh Phal - अंक ज्योतिष से साल 2021 का वर्ष फल

अंक ज्योतिष से वर्ष भविष्य फल और मासिक भविष्यवाणी

अंक ज्योतिष से वर्ष भविष्य फल (Ank Jyotish Varsh Phal) - अंक शास्त्र में प्रत्येक संख्या की एक ऊर्जा होती है, जो हर व्यक्ति के जीवन को प्रभावित करती है. तो, हर साल का भी एक अंक होता है, जिसे न्यूमेरोलॉजी में वर्षांक या वार्षिक अंक कहा गया है. अंकशास्त्र के अनुसार, यह भविष्यवाणी की जा सकती है कि आगामी वर्ष कैसे चलेगा, व्यक्ति के जीवन में क्या बदलाव आएंगे, उसको क्या करना चाहिए. यह भी अनुमान लगाया जा सकता है कि पिछले साल कैसे गुजरे थे. व्यक्तिगत वर्ष के अंकशास्त्र में 9 साल का चक्र होता है, जिसे नंबर 1 से 9 तक इंगित किया गया है.

अंकज्योतिष वर्ष फल कैलकुलेटर




जन्म विवरण (DD/MM/YY)


 

Use in English


वर्ष फल कैलकुलेटर से वर्तमान वर्ष या किसी भी वर्ष की भविष्यवाणी - समय की अंक गणना के माध्यम से व्यक्ति जीवन के हर काल के बारे में पूर्वानुमान प्राप्त कर सकता है. यह माना जाता है की, व्यक्तिगत वर्ष की संख्या का प्रभाव प्रत्येक वर्ष की 1 जनवरी से शुरू होता है, लेकिन वास्तव में, इस वर्षांक का प्रभाव एक से दो महीने पहले शुरू हो जाता है और वर्ष समाप्त होने के बाद 1 से 2 महीने बाद तक चलता है. कुछ अंकशास्त्री मानते हैं कि यह जन्म की तारीख से लेकर अगले जन्म की तारीख तक होना चाहिए, लेकिन हमें लगता है, यह जनवरी से दिसंबर तक असर करता है, क्योंकि अंकज्योतिष का लक्ष्य वर्षफल प्राप्त करना है, तो मुख्य यहाँ वर्ष ही हुआ, जिसका अपना विशेष वर्षांक होता है. तो आईये, इस साल 2021 के लिए वार्षिक फलादेश क्या होगा, जानने की शुरुआत करते है.


वर्तमान वर्ष 2021 या किसी भी वर्ष की भविष्यवाणी - अंक ज्योतिष मासिक भविष्यवाणी

अंक ज्योतिष से वर्ष भविष्य फल

अंकज्योतिष में वर्षांक क्या है ?

वर्षांक या वर्ष संख्या जन्मदिन, माह और कैलेंडर वर्ष का योग है, इसके लिए वर्षांक को नौ साल के चक्र में बाँटा गया है. प्रत्येक व्यक्ति के लिए वर्षांक व्यक्तिगत वर्ष अंक होता है, जो 1 से 9 संख्या तक और विशेष संख्या के तौर पर 11, 22 और 33 कही गई हैं. साल के इन अंकों को 1 से 9 की संख्या दी गई है, फिर भी 11, 22 और 33 को विशिष्ट दर्जा दिया गया है, ये मास्टर अंक कहलाते है, जिनमें अतिरिक्त ऊर्जा होती है, क्योंकि इनके एकल अंक क्रमशः 2, 4 और 6 है, पर इन एकल संख्याओं की दुगनी ताकत के साथ है.

अंकशास्त्र में वर्ष अंक की गणना कैसे की जाती है ?

जन्म तारीख, जन्म का महीना और जिस वर्ष का फल जानना हो उस वर्ष को लेना है, इन तीनों को आपस में जोड़ना है, और जोड़ को एकल अंक या 11, 22 या 33 आने तक जोड़ते रहें.

उदाहरण: - मान लीजिए कि आप 2017 के लिए भविष्यवाणियां जानना चाहते हैं, और जन्मतिथि 5/2/1985 है.
तीनों को जोड़ें: - 5 + 2 + 2017 = 8; यदि संख्या अभी भी एकल संख्या से ज्यादा हो तो, एकल अंक या मास्टर संख्या तक कम करें.
तो, 2017 के लिए वर्षांक 8 होगा.

अंक ज्योतिष मासिक भविष्यवाणी

अंकज्योतिष में मासिक अंक या मासांक क्या है ?

अंकविज्ञान में मासिक अंक वर्षांक और महीने की संख्या का योग होता है. मासांक से वर्ष का फल महीने के अनुसार निकाला जा सकता है.

अंकविज्ञान में मासिक अंक को कैसे ज्ञात किया जा सकता है ?

वर्षांक और महीने की संख्या को जोड़े. उदाहरण के लिए, जन्म तिथि 5 फ़रवरी के लिए, वर्ष 2017 के 12 माह के मासांक को ज्ञात करते है. तो प्राप्त वर्ष अंक 8 में जनवरी के लिए 1 जोड़ते है, तो मासिक अंक 9 मासांक होगा, ऐसे ही फ़रवरी के लिए 8+2=10 यानि 1 मासांक होगा. कृपया ध्यान दें, यदि आपको 11, 22 या 33 प्राप्त होते हैं, तो इसे और कम करने की आवश्यकता नहीं है, अन्यथा एकल अंक तक कम करें.

धन, स्वास्थय और प्रेम के लिए वार्षिक और मासिक अंकज्योतिष भविष्यफल

धन, सम्बन्ध और स्वास्थ्य के लिए वार्षिक-मासिक फलादेश सारणी क्या है ?

जब आप अंकज्योतिष वर्ष फल कैलकुलेटर का उपयोग करते है, तो ये एक सारणी पेश करता है, जिससे आप एक निश्चित साल के हर महीने की भविष्यवाणी को आसानी से समझ सकते है. इसमें आप अपने प्रेम या संबंधों के सामंजस्य के बारे में और धन एवं स्वास्थय के बारे में तुलनात्मक विवरण प्राप्त कर सकते है.