AstrologyFutureEye.Com

Indian Astrology Portal

हिप्नोटिज्म - सम्मोहन विधा

Sammohan Vidya - Sammohan Prayog

सम्मोहन क्या हैं - ये एक मनोवैज्ञानिक कला हैं जिसमें सम्मोहक किसी को हिप्नोटिज्म करने के लिए सम्मोहन तरकीब का प्रयोग करता हैं. हिप्नोटाइज़ व्यक्ति सम्मोहक की सारी आज्ञा का पालन करता हैं. क्या आपने कभी किसी जादूगर को देखा हैं, जिसने किसी लड़के को सम्मोहित करने के बाद उसे मानसिक रूप से लड़की बना दिया हो, या मानसिक रूप से उसे किसी जानवर के चरित्र में ढ़ाल दिया हो. वास्तव में, सम्मोहन एक अलौकिक विज्ञान हैं, जिसमे किसी दूसरे के दिमाग और विचारों को प्रभावित किया जाता हैं.

Sammohan Tips - सम्मोहन पथप्रदर्शन - यदि आप सम्मोहन सीखना चाहते हैं, आपको इसके मूलभूत नियमों की जानकारी होनी चाइये. हिप्नोटिज्म जिसे सम्मोहन भी कहा जाता है. छद्म विज्ञान के रूप में जाना जाता है, जिसमें सम्मोहनकर्ता दूसरों पर प्रभाव और आदेश दे सकता है. इस पृष्ठ को अंग्रेजी में पढ़ें.

हिप्नोटिज्म - आत्म सम्मोहन कैसे करें - सम्मोहन तकनीक और टिप्स

सम्मोहन शास्त्र - हिप्नोटिज्म हिंदी - Sammohan Kaise Kare

Sammohan in Hindi

Sammohan Vidya - हिप्नोटिज्म हिन्दी
1. आपका सम्मोहन विधा में विश्वास - काफी लोगों को इसमें विश्वास नहीं होता, लेकिन कई चिकित्सक और मनोवैज्ञानिक सम्मोहन को वैकल्पिक चिकित्सा पद्धति के रूप में उपयोग करते हैं. सम्मोहन के द्धारा वे मरीजों को रोगों से लड़ने का मनोवैज्ञानिक आधार बनाते हैं, यहाँ तक की, कुछ सर्जन सम्मोहन को शारीरिक अचेतक (anesthesia) के रूप में उपयोग करते हैं, ताकि मरीज को ऑपरेशन के वक्त दर्द का अहसास न हो. कई जासूसी संस्थाए सम्मोहन को उन लोगों पर उपयोग करती हैं, जो लोग कोई तथ्य उनसे छिपाना चाहते हैं. याद रखें, सम्मोहन कोई जादू कला या मंत्र विधा नहीं हैं, ये पूर्ण रूप से मनोवैज्ञानिक कला हैं, पर इसके परिणाम अलौकिक हैं. इसलिए, पहले सम्मोहन में विश्वास करें.

2. मैं सम्मोहन कर सकता हुँ - खुद में विश्वास करें की आप ये कर सकते हैं, अगर आपको इसमें यकीन नहीं होगा, तो नकारात्मक ऊर्जा अपना काम करेगी, और आप इसमें सफल नहीं हो पायेंगे. इसलिए, पहले खुद में यकीन करे.

3. सम्मोहित होने वाले व्यक्ति में विश्वास उत्पन्न करें - जब आप सम्मोहन करें, सबसे पहले उस व्यक्ति में यकीन पैदा करें की आप उसको सम्मोहित कर सकते हैं, मित्रतापूर्ण बातों से पहले ये भूमिका तैयार करे.

4. सम्मोहन से पहले आपको अपनी आंतरिक क्षमता और बल को ध्यान द्धारा बढ़ाना चाइये, ये जरूरी तो नहीं, लेकिन मैं इसकी सलाह देता हुँ, ये आपकी निर्देशित करने की क्षमता और सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ा देगा.

5. सम्मोहन मानसिक रूप से असक्षम व्यक्ति, वो व्यक्ति जो आपकी भाषा और निर्देश नहीं समझता हो, और जो इस को मजाक में लेता हो, उस पर सम्मोहन की सफलता संदेहास्पद होती हैं.

6. एक सम्मोहित व्यक्ति आपके उन निर्देशों का पालन नहीं कर सकता जो उसके स्वभाव, धर्म, नैतिकता और कानून के घोर विरुद्ध हो, जब वो इस प्रकार के आदेशों को सुनेगा, तो उसका अंतर्मन इसका विरोध करेगा, क्योकि उसका मन जानता होगा की ये सही नहीं हैं और वो सम्मोहन प्रक्रिया से जाग जायेगा. आप किसी को उसकी मर्जी के बगैर सम्मोहित नहीं कर सकते.

7. ऐसा कभी नहीं सुना गया हैं की कोई सम्मोहित व्यक्ति सम्मोहन की नींद से नहीं जागा हो, अगर आप उसको नहीं उठाओगे, तो वो प्राकृतिक निद्रा में चला जायेगा और कुछ समय बाद स्वत: जाग जायेगा. और, अगर आप सही तरीके से उसको सम्मोहित नहीं कर पाएं, या वो व्यक्ति आपके निर्देशो को बीच में छोड़ देता हैं, तो भी वो प्राकृतिक नींद में जा सकता हैं.

हिप्नोटिज्म के फायदे - सम्मोहन के लाभ

हर कोई सम्मोहन सीख और कर सकता हैं और दुसरो की भलाई कर सकता हैं. सम्मोहन का उपयोग तनाव से मुक्ति, शांति के लिए किया जा सकता हैं, इसके द्धारा याद करने की क्षमता, आत्मबल बढ़ाने और मानसिक या आंशिक शारीरिक दर्द को कम करने में किया जा सकता हैं. अगर आप एक प्रयोगात्मक व्यक्ति हैं तो आप इस के द्धारा अपनी आंतरिक क्षमताएं बढ़ा सकते हैं. इसके द्धारा आप पुरानी बातों या भूतकाल को वापिस देख सकते हैं, इसके द्धारा बुरी आदतो से छुटकारा पाया जा सकता हैं.

हिप्नोटिज्म कैसे करे - सम्मोहन कैसे करे

कृपया ध्यान रखें, सम्मोहन की कई विधियाँ और तरीके हैं जिसका आप अनुसरण कर सकते हैं.

  • जिसको आप सम्मोहित करना चाहते हैं, उसको कुर्सी पर बैठने को या बिस्तर पर सोने को कहे.
  • उसे शरीर को ढीला छोड़ने को एवं शिथिल होने को कहे.
  • उसे गहरी साँसे लेने को कहे, और दिमाग को विचार रहित करने को निर्देशित करे.
  • अब, आपको उसे मानसिक रूप से थकाना होगा, इसलिए आपको भ्रम माया उत्पन्न करनी होगी, ये आप सम्मोहन चक्र, पेंडुलम या क्रिस्टल बॉल से कर सकते हैं.
  • इस भ्रम प्रस्तुति के दौरान, गंभीर आवाज में सम्मोहक वार्ता चालू करें.

हिप्नोटिज्म आदेश - सम्मोहित वार्ता - "अब आप को मैं सम्मोहित करने जा रहा हुँ, आपको अब नजरो से इस हिलते हुए पेंडुलम को बिना पलके झपकाये देखना हैं.…आप वास्तव में इस को बिना पलके झपकाये देख रहे हैं !, .... ये आपकी आँखों को तनाव दे रहा हैं, पर कोई बात नही.…इसे निरंतर करते रहे.…ऐसा लगता हैं, आप ज्यादा देर अपनी आँखे खुली नहीं रख पायेंगे, मुझे ऐसा लग रहा हैं, आप भी इसको महसूस कर सकते हैं, महसूस करें .... आप को अपने शरीर का भान नहीं हो रहा हैं .... आप बहुत शांति महसूस कर रहे हैं, सिर्फ आँखों के तनाव के अलावा.… इसको महसूस कीजिये … तो आप पूर्ण रूप से आराम करना चाहते हैं,.... आप सोना चाहते हैं,.... ठीक हैं, गहरी नींद में सो जाइए .... सो जाइए … अब मैं १० से १ तक उलटी गिनती शुरू कर रहा हुँ, हर गिनती के नंबर पर आप गहरी और गहरी नींद में चले जायेंगे, १०..... ९…८…… सो जाओ …७…६……५…गहरी नींद में सो जाओ … ४.... ३…२…सो जाओ .... १ .......... अब आप सो चुके हो, एक गहरी नींद में सो चुके हो, अब मैं जो आपको कहूँगा, आप वो ही करेंगे, ...... और जब मैं १ से १० तक गिनती करूँगा, आप धीरे धीरे जाग जाओगे और दस तक आने तक पुरे जाग जाओगे, तब आप धीरे धीरे अपनी आँखे खोलेंगे और थोड़ी देर आराम करेंगे."

हिप्नोटिज्म की सफलता को जानने का तरीका

आप सम्मोहित व्यक्ति को कोई भी आदेश दे सकते हैं, पर वो आदेश आपको सम्मोहन की वार्ता के दौरान देना होगा. आप जानना चाहते होंगे की वो व्यक्ति सम्मोहित हुआ या नहीं, तो आप कई तरीको से पता कर सकते हैं.


१. सम्मोहन की अवस्था में आप उसको कह कर इस तरीके को आजमा सकते हैं की "मैं तुम्हारे हाथ पर चुटकी काट रहा हुँ, पर तुम्हे दर्द का अहसास नहीं होगा".
२. "अपना हाथ या पैर सीधा खड़ा करें जब तक मैं इसको निचे रखने को नहीं कहुँ, पर आपको कोई तनाव या दर्द नहीं होगा" इस प्रकार कह कर आप सम्मोहित व्यक्ति की परीक्षा कर सकते हैं.
३. क्या आप जानते हैं, कोई भी व्यक्ति जब गहरी निद्रा में होता हैं, उसकी आँखों की पुतलियाँ ऊपर की और चढ़ जाती हैं और उसकी उंगलिया उसकी हथेली की तरफ मुड़ जाती हैं अगर आप उंगलियो को सीधा करने की कोशिश करते हैं, वो वापिस मुड़ जाती हैं, आप इस के द्धारा उसकी नींद की अवस्था को जान सकते हैं.

खुद को हिप्नोटाइज़ कैसे करें - स्व सम्मोहन कैसे करें

क्या आप स्व सम्मोहन के बारे में जानते हैं, ये भी सम्मोहन का एक प्रकार हैं जिसमे व्यक्ति खुद को सम्मोहित कर सकता हैं, यदयपि, ये दूसरे को सम्मोहित करने से ज्यादा मुश्किल हैं. इसके लिए आपको क्रिस्टल बॉल, सम्मोहन चक्र या मोमबत्ती की रौशनी को बिना आँखे झपकाये काफी देर देखना होगा, और कुछ दिन के अभ्यास के बाद आपको नए प्रकार के भ्रम या illusion होंगे. आप इसके द्धारा ध्यान भी कर सकते हैं, परन्तु आपको कोई सम्मोहन निर्देश या वार्ता की जरूरत नहीं होगी क्यों की आपका अंतर्मन जानता हैं की आप क्या कर रहे हैं, केवल एक चीज जो आपको करनी हैं वो हैं संकल्प की मैं ये स्व सम्मोहन …… (आपका मकसद ) इसलिए कर रहा/रही हुँ.